WhatsApp Group Join Now
Telegram Group (102K+) Join Now

HSSC Group D, Clerk, CET Latest News: ग्रुप डी के खाली पदों की जानकारी 15 दिन के अंदर देनी होगी।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ग्रुप सी और डी के खाली पदों पर भर्ती प्रक्रिया तेज कराने के लिए प्रशासनिक सचिवों के साथ समीक्षा बैठक की। अभी तक विभागों निगमों बोर्डों ने हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के पास ग्रुप डी के खाली पदों की जानकारी नहीं भेजी है। अब सीईटी होने वाला है इसलिए ग्रुप डी के पदों का विज्ञापन भी जारी करना है। मगर कुछ तकनीकी कारणों का हवाला देकर विभागों ने ग्रुप डी के पदों की संख्या नहीं भेजी। ग्रुप C के लगभग 25000 पदों की जानकारी आयोग को भेजी जा चुकी है।

HSSC Group D, Clerk, CET Latest News: ग्रुप डी के खाली पदों की जानकारी 15 दिन के अंदर देनी होगी।

Haryana HSSC Group D and Clerk Bharti Latest News 27 May 2022
Haryana HSSC Group D and Clerk Bharti Latest News 27 May 2022

कॉमन एलिजिबिलिटी टेस्ट यानी कि CET की तैयारियां चल रही हैं

एक जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्रशासनिक सचिवों को निर्देश दिए हैं कि अगले 15 दिनों में ग्रुप डी के रिक्त पदों की जानकारी हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के पास भेज दी जाए। जिन विभागों ने ग्रुप डी के पदों के लिए नियमों में संशोधन किया है, वे संशोधन कर ले। आयोग के अध्यक्ष भोपाल सिंह खदरी ने बताया कि अभी ग्रुप डी पदों की जानकारी आयोग के पास नहीं पहुंची है। ग्रुप सी पदों की जानकारी मिल गई है।

ग्रुप डी के स्पोर्ट्स कोटे के लिए वेटिंग लिस्ट जारी करने की मांग

ग्रुप डी भर्ती में स्पोर्ट्स कोटे के लिए वेटिंग लिस्ट जारी करने की मांग के साथ कुछ वेटिंग लिस्ट के चयनित उम्मीदवार मानव संसाधन विभाग की सचिव सीमा बराड़ से मिले। उन्होंने मांग की कि खेल विभाग ने स्पोर्ट्स ग्रेडेशन सर्टिफिकेट की सूची आयोग को भेज दी है। दस्तावेज जांच भी हो चुकी है। इसलिए वेटिंग सूची जारी कराई जाए। क्लर्क पद के लिए वीरवार को 60 फ़ीसदी उम्मीदवार पहुंचे।

हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष गोपाल सिंह खदरी ने बताया कि क्लर्क पदों के लिए चल रही दस्तावेज जांच के लिए वीरवार को 1472 उम्मीदवार बुलाए गए थे। मगर 838 उम्मीदवार ही पहुंचे। अभी तक 7 ऐसे लोग पकड़े जा चुके हैं जिन्होंने स्वयं लिखित परीक्षा नहीं दी थी। इसके अलावा दस्तावेज जांच में आधे उम्मीदवार ने पहुंचने के पीछे सामाजिक आर्थिक मानदंड के आधार पर अंक प्राप्त करना भी हो सकता है। जिन्होंने अलंक क्लेम कर रखे हैं मगर वे योग्य नहीं है। वे भी दस्तावेज जांच से दूरी बनाए हुए हैं।

आयोग की सख्ती से बायोमेट्रिक जांच से भी फर्जी उम्मीदवार डरने लगे हैं

ग्रुप डी की भर्ती में गलत तरीके से सामाजिक आर्थिक मानदंड के अंक लेने की शिकायतें वर्ष 2019 में ग्रुप डी की भर्ती में गलत तरीके से सामाजिक आर्थिक मानदंड के अंक लिए हुए हैं, ऐसी शिकायतें मिल रही हैं। उनका चयन भी हो चुका है और वे नौकरी कर रहे हैं। ऐसे 50 उम्मीदवारों की सूची तैयार कर ली गई है। उन्होंने दावा किया कि दस्तावेज की जांच नहीं हुई थी इसलिए गलत तरीके से काफी उम्मीदवारों ने अंक लेकर नौकरी प्राप्त की है। वे अदालत में भी जाने की तैयारी कर रहे हैं। अगर आयोग दस्तावेज जांच करता है और कुल पदों का दोगुना उम्मीदवारों को बुलाता है तो फर्जीवाड़ा रुक जाता।

Leave a Comment